FIFA/MA Women Course conducted from 08th – 12 Nov 2016

_mg_4394_small.jpg _mg_4487_small.jpg _mg_4489_small.jpg _mg_4511_small.jpg
_mg_4522_small.jpg img_4453_small.jpg img_4455_small.jpg img_20161108_105150_small.jpg
img_20161108_105336_small.jpg img_20161108_105644_small.jpg img_20161108_105659_small.jpg img_20161108_110030_small.jpg
img_20161108_110133_small.jpg img_20161108_110212_small.jpg img_20161108_110238_small.jpg
 

समाचार

स्थानीय लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान मे आज दिनांक 08.11.2016 को फीफा व एआईएफएफ के संयुक्त तत्वाधान मे पांच दिवसीय महिला रेफरी कोर्स का उदघाट्न किया गया। उदघाट्न समारोह में सर्वप्रथम संस्थान के सहायक प्राध्यापक डा. के.के साहु ने फीफा की  प्रशिक्षिका क्रिस्टिना, युविना फर्नांडिस (अंडर 17 फुटबाल महिला विश्व कप मे रेफरी की भूमिका निभाने वाली पहली भारतीय महिला) व  एआईएफएफ के निदेशक कर्नल गौतम समेत आए अन्य सभी प्रतिभागियों को स्वागत किया। इसके पश्चात् एआईएफएफ के निदेशक कर्नल गौतम ने एलएनआईपी को रिर्फेशर कोर्स के आयोजन में सहयोग करने हेतु धन्यवाद ज्ञापित किया और कहा कि संस्थान ने हमेशा ही खेलों से जुडे आयोजनो मे सक्रिय भुमिका निभाई है और वह संस्थान के साथ आगे ऐसे अन्य और कोर्सो का आयोजन करना चाहेंगे। श्री गौतम ने फीफा व फीफा की प्रशिक्षिका क्रिस्टिना को भी धन्यवाद कहा। श्री गौतम ने ऑस्ट्रेलिया से प्रशिक्षिका के तौर पर आयी क्रिस्टिना का स्वागत श्रीफल, शॉल व पुष्प गुच्छ देकर किया। श्री गौतम ने इसके पश्चात् युविना फर्नांडिस का स्वागत व सम्मान श्रीफल, शॉल व पुष्प गुच्छ भेंट कर किया। स्वागत समारोह मे संस्थान के वरिष्ठ प्राध्यापक रमेश पाल, डा. के.क.े साहु, व डा. प्रताप पटवाल उपस्थित रहे।

फीफा की प्रशिक्षिका क्रिस्टिना ने फीफा, एआईएफएफ व एलएनआईपीई को इस रिर्फेशर कोर्स में आमंत्रित करने के लिए धन्यवाद दिया। क्रिस्टिना ने प्रतिभागियों को आज बताया कि कैसे भारतीय महिला अंर्तराष्टीय महिला रेफरी बन सकती हैं। ऐसी क्या कमियां थी जिससे कि भारतीय महिला इस क्षेत्र में पीछे रह जाती थी। तत्कालिन परिस्थितियों मे भारत में क्या सुधार आए है और अभी क्या आवश्यक्ताएं शेष है। क्रिस्टिना ने प्रतिभगियों को यह भी बताया कि इन कोर्सो के माघ्यम से प्रतिभागी अपने कमियों को जान पाते है और अपनी कमियों में सुधार ला पाते है। इस रिर्फेशर कोर्स में देशभर से कुल 26 महिला रेफरी प्रतिभागियो ने हिस्सा लिया।  

 

 
 

फीफा-एमए वुमेन रेफरी कोर्स का समापन

लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान में फीफा और एआईएफएफ के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित पांच दिवसीय महिला रेफरी कोर्स का समापन आज संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कूमार डुरैहा जी मुख्य आतिथ्य मे संपन्न हुआ। समापन समारोह के विशिष्ट्र अतिथि संस्थान के कुलसचिव प्रो. विवेक पांडे जी रहे। समापन समारोह में डा. के.के.साहु ने सभी अतिथियों व प्रतिभागियों का स्वागत किया। जिसके बाद कुलपति प्रो. दिलीप कूमार डुरैहा जी का संबोधन हुआ। अपने संबोधन में कुलपति जी ने फीफा व एआईएफएफ को धन्यवाद ज्ञापित किया और कहा कि ऐसे कोर्स भारतीय महिला रेफरी प्रतिभागियों के लिए अत्यंत ही आवश्यक हैं। कुलपति जी ने तत्कालिन समय में रेफरी की आवश्यक्ता व कॅरियर संबधित महत्व के बारे में प्रतिभागियों को अवगत कराया। एआईएफएफ से प्रताप सिंह पटवाल ने कुलपति प्रो. दिलीप कूमार डुरैहा, कुलसचिव प्रो. विवके पांडे व एलएनआईपीई को धन्यवाद ज्ञापित किया व कहा कि संस्थान की सुविधाएं व बुनियादी ढ़ांचा न ही केवल भारत में अपितु एशिया के बेहतरीन संस्थानो में से हैं। समापन समारोह के अंत में सभी प्रतिभागियों कों कुलपति जी द्वारा प्रशस्ति पत्र वितरीत किया गया। एआईएफएफ व फीफा की तरफ से कुलपति प्रो. डुरैहा व कुलसचिव प्रो. विवेक पांडे को स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया। समापन समारोह में फीफा की प्रशिक्षक किस्टिना, भारतीय प्रशिक्षक श्रीमती मारिया, श्रीमती अनामिका, एआईएफएफ से प्रताप सिंह पटवाल जी, संस्थान की प्राध्यापिका डा. अनंदिता दास व कार्यक्रम समन्वयक डा. के.के. साहु उपस्थित रहें।